महाराष्ट्र

राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेता अजित पवार के एक ट्वीट ने मचा दिया बवाल !

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़े बदलाव के संकेत?

मुंबई, प्रतिनिधि :
महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री तथा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेता अजित पवार के एक ट्वीट ने महाराष्ट्र प्रदेश की राजनीति में हलचल मचा दि है। दरअसल अजित पवार ने जनसंघ के संस्थापक पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्मदिन पर उन्हें अभिवादन करते हुए एक ट्वीट किया था लेकिन फिर बाद में उन्होंने ट्वीट को डिलीट भी कर दिया।

दीनदयाल के जन्मदिन पर पवार ने शुक्रवार 25 सितंबर को उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए पहले तो ट्वीट किया। लेकिन एक घंटे के अंदर ही उनका ट्वीट हट गया। ट्वीट हटाने के बाद पवार ने कहा कि राजनीति और सामाजिक कार्य में ‘सीनियर’ की सलाह माननी पड़ती है। हालांकि यह स्पष्ट नहीं किया कि किस की सलाह पर ट्वीट डिलीट किया लेकिन ऐसी चर्चा है की राष्ट्रवादी कांग्रेस के राष्ट्रिय अध्यक्ष शरद पवार के कहने पर ही उन्होंने उस ट्वीट को डिलीट किया।
पवार एनसीपी के एकमात्र ऐसे नेता रहे, जिन्होंने भाजपा के आदर्श पुरुष माने जाने वाले पंडित दीनदयाल को याद किया। उन्होंने कहा, ‘हमारी संस्कृति में उन लोगों के बारे में हमेशा सम्मान से बात किया जाता है, जो अब जीवित नहीं हैं। यही हमारी परंपरा है।’ उनका यह ट्वीट वायरल हो गया और बीजेपी के साथ नजदीकी की अटकलें लगने लगीं।

पिछले साल नवंबर में महाविकास अघाडी सरकार के बनने पर अजित पवार ने गुपचुप तरीके से बीजेपी के देवेंद्र फडणवीस के साथ हाथ मिला लिया था। 24 नवंबर को फडणवीस ने सीएम पद की शपथ ली, जिसमें अजित पवार को डेप्युटी सीएम का पद मिला। लेकिन यह सरकार दो दिन से अधिक नहीं चली। इसी तरह अयोध्या में जब पीएम मोदी ने राम मंदिर का भूमिपूजन किया, तो अजित के बेटे पार्थ पवार ने बधाई दी थी। इसी तरह राजनैतिक गलियारों में अटकलें लगाईं जा रही हैं की राष्ट्रवादी के कद्दावर नेता अजित पवार की भाजपा के साथ नजदीकियां बढाती जा रही हैं और भविष्य में वो कभी भी भाजपा के साथ जा सकते हैं।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
सर्व हक्क मुख्य संपादक यांचे कडे असून त्यांच्या परवानगी शिवाय काहीही कॉपी करू नाही.
Close
Close