महाराष्ट्रमुंबई

बहुचर्चित स्व बालासाहेब ठाकरे कला दालन का भूमिपूजन मुख्यमंत्री उद्घव ठाकरे के हाथों वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा हुआ संपन्न

इसी कलादालन को लेकर शिवसैनिकों ने महापौर दालन में की थी जमकर तोड़फोड़

भाईंदर, प्रतिनिधि: मीरा भाईंदर शहर में पिछले कई सालों से प्रलंबित स्व बाला साहेब ठाकरे कला दालान का भूमिपूजन आखिरकार आज मुख्यमंत्री उद्घव ठाकरे के हाथों वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया गया। इसी के साथ मीरा भाईंदर शहर के लिए कोविड़- 19 के RTPCR प्रयोग शाला का लोकार्पण और BSUP योजना के लिए MMRDA द्वारा मंजूर 40 करोड़ रुपए के कर्ज निधी को मनपा को हस्तांतरण का कार्यक्रम भी सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर सांसद राजन विचारे, पालकमंत्री एकनाथ शिंदे, विधायक प्रताप सरनाईक, गीता जैन, रविन्द्र फाटक पूर्व विधायक गिल्बर्ट मेंडोंसा समेत मीरा भाईंदर की महापौर ज्योत्सना हसनाले, उप महापौर हसमुख गहलोत, मिभा मनपा आयुक्त डॉ विजय राठौड़ और कई नगरसेवक, नगरसेविकाएं प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।
38 करोड़ रुपए की लागत से मीरा भाईंदर शहर में स्व बालासाहेब ठाकरे के नाम से बनने वाले इस कलादालन को लेकर सत्ताधारी भाजपा और शिवसेना के बीच पिछले कई सालों से काफी विवाद चल रहा था। सत्ताधारी भाजपा इस कलादालन के निर्माण कार्य को जानबूझकर टाल रही हैं ऐसा आरोप शिवसेना ने लगाया था। पिछले साल 17 सितंबर 2019 को जब स्टैंडिंग कमेटी के मीटिंग में इसी कलादालन के निर्माण का प्रस्ताव ऐन मौके पर सत्ताधारी भाजपा ने विषय पत्रिका से हटाया तो गुस्साए शिवसैनिकों ने स्टैंडिंग कमेटी का दालन और महापौर के दालन में जमकर तोड़फोड़ की थी और महापौर के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर काफ़ी हंगामा किया था जिसके कारण शहर की राजनीति काफी गरमा गई थी और भाजपा और शिवसेना के बीच कहीं न कही इसी घटना के बाद से विवाद खुलकर सामने आया था।
इस कलादालन के निर्माण के लिए शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक ने राज्य सरकार के पास काफी कोशिश की थी लेकिन शिवसेना की ओर से आरोप लगाया जा रहा था कि भाजपा की देवेन्द्र फडणवीस सरकार के पिछले कार्यकाल में इस कलादालन के निर्माण को लेकर काफी उदासीनता दिखाई देती रही थी लेकिन अब जब महाराष्ट्र में सत्ता परिवर्तन हुआ है और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में महाविकास आघाड़ी की सरकार बनी है तब इस इस कलादालन के निर्माण को मंजूरी मिल पाई है। इसी प्रकार भाजपा के नेता स्व प्रमोद महाजन कलादालन के निर्माण का भूमिपूजन भी होना था लेकिन सत्ताधारी भाजपा ने ऐन मौके पर इस कार्यक्रम को आगे टाल दिया जिसके कारण स्व प्रमोद महाजन कलादालन के भूमिपूजन का कार्यक्रम नही हो पाया। इसपर मुख्यमंत्री उद्घव ठाकरे ने भाजपा के नेताओं की ओर इशारा कर टिप्पणी करते हुए कहा कि आप भले ही हमारे नेताओं का सम्मान ना करें लेकिन हमारी सरकार महाराष्ट्र के सभी नेताओं का बराबर सम्मान करती हैं और स्व प्रमोद महाजन कलादालन के निर्माण के लिए भी कोई अड़चन आने नही देंगे और ना ही कभी निधि की कमी होने देंगे।
इस कला दालान के निर्माण को लेकर पालकमंत्री एकनाथ शिंदे ने अपने भाषण में विशेष रूप से उल्लेख करते हुए कहा कि चूंकि यह कला दालान स्व बालासाहेब ठाकरे के नाम से बन रहा है तो इसका निर्माण कार्य बालासाहेब ठाकरे के नाम के अनुरूप उसका दर्जा भी उच्चकोटि का होना चाहिए, कार्य को समय पर पूरा किया जाना चाहिए और इस कार्य मे बिलकुल भी भ्रष्टाचार नही होना चाहिए।
अब चूंकि स्व बालासाहेब ठाकरे के नाम से बनाए जाने वाले इस कला दालन के भूमिपूजन हो चुका है तो मीरा भाईंदर शहर की जनता द्वारा अब उम्मीद जताई जा रही है कि जल्द ही यह कला दालन बनकर तैयार हो जाएगा और मीरा भाईंदर शहर के कलाकारों के लिए उनका अपना हक का एक व्यासपीठ उपलब्ध हो पायेगा।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
सर्व हक्क मुख्य संपादक यांचे कडे असून त्यांच्या परवानगी शिवाय काहीही कॉपी करू नाही.
Close
Close