ताज़ा ख़बर

ऑटोरिक्षा चालकों की मनमानी उगाही से जनता परेशान ! आख़िर कब होगा इस समस्या का समाधान?

नगरसेवक ध्रुवकिशोर पाटिल ने कार्रवाई की मांग

मीरा-भाईंदर, प्रतिनिधि : मीरा-भाईंदर शहर के लिए ऑटोरिक्शा में मीटर प्रणाली लागू किये हुए बरसों हो गए लेकिन आज भी ऑटोरिक्शा चालक यात्रियों से मनमाने तरीके से किराया वसूल रहे हैं। मीटर से चलने के लिए कहा जाता है तो झगड़ा करने लगते है यहाँ तक की कई बार यात्रियों के साथ मारपीट भी कर देते हैं। जनता इस दादागिरी से काफ़ी परेशान हो चुकी है और इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए भारतीय जनता पार्टी के पूर्व स्थायी समिति के अध्यक्ष और नगरसेवक ध्रुवकिशोर पाटिल ने पुलिस आयुक्तालय के अधीन वाहतूक विभाग, परिमंडल -1 में लिखित शिकायत करते हुए मांग की है की मीरा-भाईंदर शहर में चल रही जबरन उगाही पर रोक लगाईं जाए और जो ऑटोरिक्शा चालक ऐसी उगाही कर रहे हैं उनपर कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाए।

मीरा-भाईंदर शहर में ऑटोरिक्शा से यात्रा करने वाले यात्रियों से मीटर के अनुसार किराया लेने की व्यवस्था 2011 से लागू की गई है। कुछ जगहों को छोड़कर जैसे की मीरारोड स्टेशन परिसर, भाईंदर पूर्व और पश्चिम परिसर को कुछ मार्ग के लिए शेयर ऑटो की सुविधा देने के साथ बाकी पुरे शहर में मीटर प्रणाली लागू है और जो यात्री शेयर ऑटो से ना जाकर मीटर से जाना चाहते हैं उन्हें मीटर से ही किराया लिया जाए ऐसा नियम लागू किया गया है। इसके बावजूद मीरा- भाईंदर शहर में कई जगहों पर ऑटोचालक मीटर से चलने के लिए मना कर देते हैं।

भाईंदर पश्चिम के मॅक्सस मॉल के परिसर में स्टेशन की ओर जानेवाले ऑटोचालक यात्रियों से जबरन शेयर ऑटो का किराया वसूल कर रहे हैं। कोई यात्री अगर अपने परिवार के साथ है और वो मीटर से जाना चाहता है फिर भी उन्हें मना कर दिया जाता है और दादागिरी कर गाली-गलौज़ पर उतर आते हैं यहाँ तक की कई बार मारपीट भी की जाती है।

भाईंदर पश्चिम के मॅक्सस मॉल से स्टेशन तक का मीटर से किराया लगभग 20 से 25 रुपये होता है जबकि शेयर ऑटो का किराया प्रति व्यक्ति 15 रुपये के हिसाब से तीन व्यक्तियों से 45 रुपये किराया लिया जा रहा है जो की दुगना ज्यादा है। कोई यात्री अगर शेयर ऑटो से जाना चाहता है तब तो ठीक है लेकिन अगर कोई मीटर से जाना चाहे तो उसे साफ़ मना किया जाता है और कारण पूछने पर गाली-गलौज़ और दादागिरी की जाती है।

भाईंदर पश्चिम के मॅक्सस मॉल के परिसर में स्टेशन की ओर जानेवाले ऑटोचालक यात्रियों से जबरन शेयर ऑटो का ज्यादा किराया वसूल कर रहे हैं। ऐसे ऑटो चालकों पर कार्रवाई होनी चाहिए !- ध्रुवकिशोर पाटिल (पूर्व स्थायी समिति सभापति, नगरसेवक भाजपा)

कोरोना महामारी के कारण जब पुरे शहर में लॉकडाउन किया गया था तो सभी तरह की सार्वजनिक परिवहन सेवायें बंद की गई थी उसके बाद जब लॉकडाउन में कुछ शर्तों के साथ ढील दी गई और ऑटोरिक्शा में सिर्फ़ दो व्यक्ति के यात्रा की अनुमति दी गई तो भाईंदर पश्चिम स्टेशन से 60 फुट रोड, 90 फुट रोड और मॅक्सस मॉल तक का किराया बढ़ाया गया और स्टेशन से 60 फुट रोड तक प्रति व्यक्ति 15 और स्टेशन से 90 फुट रोड, मॅक्सस मॉल तक का किराया 20 रुपये किराया लिया जा रहा था। लेकिन अब जबकि लॉकडाउन पूरी तरह से खुल चूका है और ऑटोरिक्शा में तीन यात्रियों यात्रा करने की छूट दी गई है इसके बावजूद अभी भी ऑटोचालक लॉकडाउन के दौरान लागू किया हुआ ज्यादा किराया जबरन वसूल कर रहे हैं।

इसी मुद्दे को लेकर भाजपा के पूर्व स्थायी समिति के अध्यक्ष और नगरसेवक ध्रुव किशोर पाटिल ने परिवहन विभाग में लिखित शिकायत कर मांग की है की ऑटोरिक्शा चालकों की यह मनमानी उगाही बंद की जाए और यात्रियों से पहले की तरह सामन्य दर से किराया लिया जाए और जो ऑटोचालक यात्रियों से जबरन वसूली कर रहे है या उनसे बदतमीज़ी कर रहे हैं उनपर कठोर कानूनी कार्रवाई की जाए।

अब देखना होगा की मीरा-भाइंदर के परिवहन विभाग इसपर क्या कारवाई करता है लेकिन ऑटोचालकों की इस जबरन उगाही से जनता परेशान हो चुकी है और इससे उन्हें जल्द राहत मिले ऐसी मांग जनता द्वारा की जा रही है।

Share
Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
सर्व हक्क मुख्य संपादक यांचे कडे असून त्यांच्या परवानगी शिवाय काहीही कॉपी करू नाही.
Close
Close