ताज़ा ख़बर

कोरोना” वैक्सीन बनाने वाले पुणे के सीरम इंस्टीट्यूट में लगी भयंकर आग

एक महिला समेत चार लोगों की मौत!

पुणे, प्रतिनिधि :  पूरे भारत देश को कोरोना वैक्सीन प्रदान करने वाला महाराष्ट्र के पुणे का सीरम इंस्टीट्यूट पूरी दुनिया में जाना जाने लगा है। लेकिन दुर्भाग्यवश आज दोपहर करीब 02 बजे इसी सीरम इंस्टीट्यूट में भयंकर आग लग गई। सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार आग के इस दुर्घटना में एक महिला समेत चार लोगों की मौत हुई है और कुछ लोग जख्मी भी हुए हैं जिनकी निश्चित संख्या अभी पता नहीं चली है।

सीरम इंस्टीट्यूट जो कोरोना वायरस के खिलाफ टीके बनाता है जो कि पुणे के हडपसर के पास गोपालपट्टी में स्थित है उसके एक प्लांट में आज दोपहर अचानक आग लग गई । स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए फायर ब्रिगेड की कई गाड़ियां मौके पर पहुंच गई और आग बुझाने के अथक प्रयास किये जा रहे हैं। इस बीच, सुरक्षा कारणों से इस सीरम इंस्टीट्यूट में कार्यरत सभी शोधकर्ताओं को सुरक्षित स्थान पर स्थानांतरित कर दिया गया है।

अग्निशमन अधिकारियों ने दी हुई जानकारी के अनुसार जिस तरफ टीके का निर्माण किया जा रहा है, उस यूनिट को ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचा है। उस जगह पर आग लगी है जहां बीसीजी का टीका तैयार किया जा रहा था लेकिन कोविड वैक्सीन का निर्माण विभाग सुरक्षित है, लेकिन अभी तक आग लगने के सही कारणों का पता नही चला है और इस बारे में अधिक जानकारी आना अभी बाकी है। घटना स्थल पर 10 फायर टेंडर मौजूद थे।

महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने बयान दिया है कि आग के कारणों की जांच की जानी चाहिए। इमारत में आग लगी है जहां सीरम संस्थान का बीसीजी वैक्सीन संयंत्र स्थित है। आग उसी इमारत में लगी, जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिरम संस्थान का दौरा किया था। प्रारंभिक अनुमान है कि आग शॉर्ट सर्किट के कारण लगी थी।

पता चला है कि वेल्डिंग का काम चल रहा था तभी आग लग गई। हालांकि, जैसा कि कोरोनोवायरस वैक्सीन यहां विकसित किया जा रहा है, सभी एजेंसियों ने घटना को गंभीरता से लिया है। खुफिया एजेंसियों ने जांच शुरू कर दी है कि आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी या किसी और वजह से। क्या यह वैक्सीन उत्पादन को प्रभावित करेगा?

ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय द्वारा विकसित वैक्सीन, सीरम इंस्टीट्यूट द्वारा कोविशिल्ड के नाम से निर्मित किया जा रहा है। कोविशिल्ड वैक्सीन स्टॉक सुरक्षित है। आग लगने की कोई सूचना नहीं मिली है। नई इमारत के स्थल पर आग लग गई। सीरम इंस्टीट्यूट का कहना है कि आग से वैक्सीन उत्पादन पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

सीरम इंस्टीट्यूट में लगी यह आग महज़ एक दुर्घटना थी या फ़िर यह कोई गहरी साजिश थी इसका पता तो तभी चलेगा कि इस घटना की निष्पक्ष जांच की जाए। अब देखना होगा कि जांच एजेंसीयाँ इसकी जांच निष्पक्ष रूप से कर पाती है यह तो आनेवाला समय ही बताएगा।

Share
Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
सर्व हक्क मुख्य संपादक यांचे कडे असून त्यांच्या परवानगी शिवाय काहीही कॉपी करू नाही.
Close
Close