टॉप न्यूज़

व्हट्सएप पर अफवाह फैलाने के आरोप में नयानगर के तीन कांग्रेसी नगरसेवकों समेत छह लोगों पर नयानगर पुलिस स्टेशन मे हुआ केस दर्ज!

Apr 30 2020 5:13PM

मीरारोड़, प्रतिनिधि : हाट्सएप ग्रुप मे एक मैसेज वायरल कर अफवाह फैलाने के जुर्म में कांग्रेस के तीन नगरसेवक सारा अकरम, नरेश पाटिल और अमजद शेख समेत रफीक शेख, इब्राहीम सय्यद, अब्दुल रहमान रीझवी इन छह लोगों पर नयानगर पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है मामला ऐसा है कि बीते 26 अप्रैल रविवार को नयानगर इलाके के तीन नगरसेवकों समेत 6 लोगों के एक शिष्टमंडल ने मनपा आयुक्त चंद्रकांत डांगे से मुलाकात कर नयानगर इलाके में रमजान के महीने को ध्यान में रखते हुए फल और सब्जियों की दुकानें कुछ समय के लिए खुली रखने की छूट दिए जाने की मांग की। नगरसेवकों की मांग पर चर्चा करने के बाद आयुक्त चंद्रकांत डांगे ने उन्हें आश्वासन दिया था कि इस बात पर वो गंभीरता से विचार करते हुए जल्द ही इस पर कोई निर्णय लेंगे। लेकिन कांग्रेस के नगरसेवकों ने अतिउत्साह में इस बारे में एक मेसेज बनाकर व्हट्सएप ग्रुप मे शेयर कर दिया जिसमें लिखा गया की 27 अप्रैल से फल और सब्जियों की दुकानें खुली रखने का आश्वासन मनपा आयुक्त चंद्रकांत डांगे ने दिया है तो जल्द ही लोगों को राहत मिल सकती है। लेकिन अगले दिन जब सोमवार 27 अप्रैल को महापौर ज्योत्सना हसनाले की अध्यक्षता में हुई बैठक में इस विषय पर कोई ठोस निर्णय नहीं लिया गया और संपूर्ण लाॅकडाऊन 03 मई तक बढाया गया। लेकिन कांग्रेस नगरसेविका सारा अकरम ने जोश में आकर व्हाट्सएप ग्रुप में मेसेज पहले ही डाल दिया कि 27 तारीख से नया नगर इलाके में कई जगहों पर बैरिकेड्स खोल दिए जाएंगे साथ ही फल और सब्जियों की दुकानें भी खुल जाएंगी। यही मैसेज नया नगर में वायरल होने के बाद उनके कुछ राजनैतिक विरोधियों ने इसके खिलाफ मनपा आयुक्त और पुलिस प्रशासन से शिकायत की और पुलिस पर दबाव बनाया कि इन लोगों पर झूठी अफवाह फैलाने के लिए मामला दर्ज किया जाए। पुलिस ने भी इस मामले का संज्ञान लेते हुए खुद फरियादी बनकर नयानगर पुलिस स्टेशन में महामारी प्रतिबंधक अधिनियम और कोवीड -19 के धाराओं के अंतर्गत मामला दर्ज किया गया है। इस बारे में जब आरोपी नगर सेवकों से हमने बात की तो कांग्रेस नगरसेवक नरेश पाटिल ने हमें बताया कि "हम तो जनता के हित में आयुक्त से मिलने गए थे और उन से रिक्वेस्ट की थी कि जनता को राहत देने के लिए कुछ समय तक नयानगर में फल और सब्जियों की दुकानें खोली जाए ताकि रमजान के महीने में जनता को कुछ राहत मिल सकें और हमने इस मैसेज मे कहीं भी यह नहीं कहा है कि दुकानें खुली रखने का आदेश जारी हुआ है हमने तो सिर्फ यह लिखा है कि आयुक्त ने आश्वासन दिया है कि इस विषय पर सोचेंगे। लेकिन इसके बावजूद हमारे उपर मामला दर्ज हुआ है तो निश्चित ही ये किसी राजनैतिक दबाव मे हुआ है। हमने तो जनता के हितों की बात की है इसमे हमारा कोई व्यक्तिगत स्वार्थ नहीं था फिर भी अगर हमारे उपर कोई कानूनी कार्रवाई होती है तो हम उसके लिए तैयार है" इस मामले से यह बात तो साबित हो जाती है कि कोरोना जैसी महामारी के कठीण समय मे भी मीरा भाईंदर शहर मे शहर में लोग राजनीति करने का कोई मौका नहीं चुकते है। अब इसकी सच्चाई क्या है ये तो आनेवाला समय ही बताएगा और नयानगर पुलिस इस मामले की छानबीन करने मे जुटी है लेकिन अभी तक किसी की कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।

प्रतिक्रिया





View all Comments

Visitor

Visitor Name : Debasis Das

Email : debasisdas.das.das@gmail.com

Comments : Nice website

11/05/2020
Visitor

Visitor Name : moinuddin sayed

Email : mgs.pol@gmail.com

Comments : very good coverage

01/05/2020










Make it modern

Popular Posts